FASTENER 

किसी मशीन के दो पुर्जों या भागों को आपस में जोड़ने की क्रिया फास्ट निंग कहलाती है और इस कार्य के लिए प्रयोग किया गया साधन फास्ट नर कहलाता है इसकी निम्न तीन विधियां हैं
 नंबर 1 स्थाई बंधक (permanent fastening)
नंबर 2. सेमी परमानेंट फास्ट निंग (semi-permanent fastening)
नंबर 3 टेंप्रेरी फर्स्ट इनिंग (temporary fastening)

Permanent fastening
किसी मशीन के दो पुर्जों या भागों को स्थाई रूप से आपस में जोड़ देना स्थाई फास्टर कहलाता है यह क्रिया ब्रिजिंग गैस इलेक्ट्रिक वेल्डिंग से संपन्न की जाती है इस प्रकार के फास्ट नरको कटिंग औजारो अथवा गैस कटर से काटकर ही खोला जा सकता है

 Semi-permanent fastening
किसी मशीन के दो पुर जोया भागों को रिपीट सोलडरिंग आज के द्वारा आपस में जुड़ना अर्थ स्थाई बंधक कहलाता है या बंधक लगभग स्थाई होता है परंतु आवश्यकता पड़ने पर सोलरिन अथवा छेनी हथौड़े से रिवेट को काटकर पुर्जों या भागों को अलग किया जा सकता है 

TEMPORARY FASTENING
 किसी मशीन के दो पुर जोया भागों को नट-बोल्ट स्टेट स्कूल की आज के द्वारा आपस में जुड़ना अस्थाई बंधक कहलाता है इस प्रकार के बंधक को आवश्यकता अनुसार अनेकों बार सरलता से खुला का जोड़ा जा सकता है

0 comments:

Post a Comment

Thanks for coments

 
Top